Monday, April 22, 2019

पावर कॉम के लिए मुश्किल भरी होगी इस साल होशियारपुर की गर्मी



होशियारपुर 21 April  बादल सरकार के दौरान पावर सरप्लस राज्य का दर्जा पाने वाले पंजाब की गर्मियों में बिजली सप्लाई की मांग पूरी करना पावरकॉम के लिए काफी मुश्किल बड़ा होगा इसका बड़ा कारण यहां पावर कॉम की ओर से अपने बठिंडा और रोपड़ थर्मल पावर प्रोजेक्ट के कुछ यूनिट बंद कर दिए वहीं राज्य सरकार की ओर बिनती सब्सिडी का भुगतान के समय पर ना मिलने के कारण भी पावर कॉम के लिए बिजली खरीद करने भी आसान नहीं होगी ऐसे में राज्य की जनता को पावर कट्स का सामना करना पड़ सकता है मौसम विभाग के अनुसार इस साल होशियारपुर सुमित मुझे उत्तर भारत में जबरदस्त गर्मी पड़ेगी होशियारपुर में अप्रैल महीने के अंत तक का पारा 40 डिग्री तक पहुंचने का आसरा है
क्या है होशियारपु में बिजली खपत की स्थिति- गौरतलब है कि होशियारपुर पॉपकॉर्न सर्कल में इस समय बिजली की मांग पर पत्र में भारी अंतर है पावर कौन से प्राप्त जानकारी के अनुसार होशियारपुर सर्कल में इस समय डोमेस्टिक में कमर्शियल कनेक्शन की संख्या जहां 490000 है वहीं ट्यूबवेल कनेक्शन की संख्या 68000 से भी अधिक है इन सभी कनेक्शनों के लिए पीक सीजन में बिजली की मांग 1100 मेगावाट हुआ करती है
क्या कहते हैं पावरकॉम के जानकार ---> पावर कॉम जानकार बताते हैं कि राज्य में पावर डिमांड की पिक फिगर 11700 मेगावाट रही क्योंकि पावर सेक्टर में हर साल करीब 10 फ़ीसदी की मांग बढ़ने का अनुमान होता है इस बार यह आंकड़ा करीब 12,300 होने की संभावना जताई जा रही है पिछले साल पावर कॉम ने करीब 56 सौ मेगा वाट बिजली अपनी हाइड्रो जेनरेशन सिस्टम से जुटाई जबकि बाकी बिजली बाहरी पावर सप्लाई कंपनियों से यहां खरीदे वही बैंकिंग सिस्टम से भी बिजली हासिल की पावर कॉम जानकार बताते हैं कि मौजूदा समय में पावरकॉम के ट्रांसमिशन कैपेसिटी6100 मेगावाट है जो आने वाले समय में कम पड़ सकती है

No comments:

Post a Comment

Ad